बॉक्स ऑफिस रिपोर्ट- तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया: पहले दिन ₹6.5 करोड़ कमाए; शाहिद की पिछली फिल्म से बेहतर रहा ओपनिंग कलेक्शन


17 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

शाहिद कपूर और कृति सेनन स्टारर फिल्म तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया की बॉक्स ऑफिस पर ठीक-ठाक शुरुआत हुई है। फिल्म ने रिलीज के पहले दिन यानी शुक्रवार को 6.5 करोड़ रुपए का कलेक्शन किया। एक मिड रेंज बजट वाली फिल्म के लिए यह एक अच्छी शुरुआत कही जा सकती है।

इसका कलेक्शन शाहिद कपूर की पिछली थिएट्रिकल रिलीज फिल्म जर्सी से कहीं बेहतर है। जर्सी ने पहले दिन 2.93 करोड़ रुपए का कलेक्शन किया था।

रात वाले शोज में ऑडियंस की संख्या बढ़ी
इंडस्ट्री ट्रैकर सेकनिक की रिपोर्ट के मुताबिक, तेरी बातों में ऐसा उलझा जिया ने पहले दिन 6.5 करोड़ रुपए कमाए हैं। मॉर्निंग शो में 8.80% की ऑक्यूपेंसी रही। वहीं दोपहर और शाम वाले शोज में 11.79% और 13.62% की ऑक्यूपेंसी रही। रात वाले शो में ऑडियंस की संख्या बढ़ गई। रात वाले शोज में टोटल ऑक्यूपेंसी 25.46% रही।

फिल्म कल यानी 9 फरवरी को रिलीज हुई है।

फिल्म कल यानी 9 फरवरी को रिलीज हुई है।

शाहिद की पिछली फिल्म से बेहतर रही ‘तेरी बातों में…’ की ओपनिंग
शाहिद कपूर की अंतिम पांच फिल्मों का रिकॉर्ड देखें तो कबीर सिंह के बाद तेरी बातों ने ऐसा उलझा जिया ने अच्छी ओपनिंग ली है। 2022 में रिलीज हुई फिल्म जर्सी ने 2.93 करोड़ रुपए पहले दिन कमाए थे। 2019 में रिलीज हुई फिल्म कबीर सिंह ने पहले दिन 20.21 करोड़ रुपए का शानदार कलेक्शन किया था।

शाहिद की पिछली-5 फिल्मों का फर्स्ट डे कलेक्शन

  • जर्सी- 2.93 करोड़
  • कबीर सिंह- 20.21 करोड़
  • बत्ती गुल मीटर चालू- 6.50 करोड़
  • पद्मावत- 24 करोड़
  • रंगून- 5.05 करोड़
शाहिद कपूर और कृति सेनन ने पहली बार स्क्रीन शेयर किया है।

शाहिद कपूर और कृति सेनन ने पहली बार स्क्रीन शेयर किया है।

काफी लोगों को फिल्म का कॉन्सेप्ट बिना लॉजिक के लग सकता है, लेकिन यह फिल्म कहीं न कहीं फ्यूचर पर भी इशारा करती है। जिस तरह से टेक्नोलॉजी आगे बढ़ रही है, हो सकता है कि आने वाले वक्त में रोबोट इंसानों की तरह ही हमारे आस-पास घूमें।

कुछ लोगों को इसे देख रजनीकांत की फिल्म ‘रोबोट’ की याद आ सकती है, हालांकि उसमें रोबोट को इंसान से प्यार होते दिखाया गया है। इस फिल्म में उल्टा इंसान को रोबोट से प्यार होता है। अब इसके लिए उस इंसान को क्या-क्या पापड़ बेलने पड़ते हैं, फिल्म में इसी कहानी को फनी अंदाज में दिखाने की कोशिश की गई है। पूरा रिव्यू पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Leave a Comment